दुनिया भर में कोरोनावायरस की संक्रामक सैर जारी है। लगभग 3,50,000 मौतें हो चुकी हैं और 55 लाख से ज़्यादा लोग संक्रमित हैं।हमारा आकलन बताता है कि आर्थिक ग़रीबी के बावजूद दुनिया के समाजवादी हिस्सों की प्रगति के कारणों में से एक यह है कि वे विज्ञान को गंभीरता से लेते हैं।इसी वजह से.